pathankot mandi highway

कोटरोपी में दो दिन में बहाल होगा Pathankot-Mandi Highway

पद्धर : द्रंग हलके के कोटरोपी में छह दिन से बंद पठानकोट-मंडी राष्ट्रीय राजमार्ग दो दिन के अंदर बहाल होने की उम्मीद जग गई है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) ने मार्ग को बहाल करने के लिए तीन पोकलेन व एक जेसीबी लगाई है। वीरवार को एक और पोकलेन मंगवाई गई। तीनों पोकलेन और एक जेसीबी मार्ग को अस्थायी तौर पर बहाल करने में जुटी है। चारों मशीनों से काम ने गति पकड़ी है।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर दो जगह बने नाले को भरने का कार्य शुरू हो चुका है। ऐसे में दो दिन में मार्ग के अस्थायी तौर पर बहाल होने की संभावना जताई जा रही है। अस्थायी रूप से यातायात शुरू करने के बाद एनएचएआइ यहां पर स्थायी रूप से मार्ग को तैयार करने की योजना बना रहा है। स्थानीय रूट पर चलने वाली बसें कोटोरोपी के दोनों छोर से चली। लोग एक छोर पर उतरने बाद पहाड़ी को पैदल पार कर दूसरे किनारे से बस लेते रहे। बीमार लोगों व विद्यार्थियों को सबसे ज्यादा मुश्किल हो रही है। एनएचएआइ के साइट इंजीनियर साहिल जोशी ने कहा वीरवार को एक और पोकलेन मार्ग को बहाल करने के लिए लगाई गई है। इससे कार्य में तेजी आई है। फिलहाल मार्ग अस्थायी तौर पर यातायात के लिए बहाल होगा। एसडीएम पद्धर संजीत सिंह ने भी घटनास्थल पर पहुंच कर कार्य की प्रगति का जायजा लिया। 15 सड़कें अभी बंद, 85 विद्युत ट्रांसफार्मर ठप

मंडी : भारी वर्षा से बाधित हुए सड़क मार्गों में मंडी जिले में 15 सड़कें अभी बंद हैं। इसी तरह 85 विद्युत ट्रांसफार्मरों को भी चालू नहीं किया जा सका है। जिला के सराज में ही सात मार्ग बाधित हैं, जबकि करसोग में छह और कटौला डिविजन के तहत दो सड़कें बंद हैं। इसी तरह 16 बिजली के ट्रांसफार्मर मंडी में बंद हैं, जबकि, 55 गोहर में, दो जोगेंद्रनगर और 12 बालीचौकी में बंद हैं। इन सभी को बहाल करने का कार्य जारी है। मनाली के रांगड़ी में दुकान में घुसा पत्थर

mandi landslide

मनाली के समीप रांगड़ी में एचआरटीसी के लग्जरी बस स्टैंड के पास पहाड़ी से गिरा भारी भरकम पत्थर दुकान में जा घुसा। सुबह चार बजे हुए इस हादसे में कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है, लेकिन दुकान में रखा फ्रिज चकनाचूर हो गया। दिन के समय यह हादसा होता तो जान माल का भारी नुकसान हो सकता था।

दुकानदार चुनी लाल ने बताया कि वह दुकान बंद कर रात को घर चले गए थे। सुबह पड़ोसी ने सूचित किया कि दुकान में बड़ा पत्थर गिर गया है। दुकान का अधिक नुकसान नहीं हुआ है, लेकिन फ्रिज पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। उधर, एसडीएम मनाली डा. सुरेंद्र ठाकुर ने कहा कि बरसात अधिक होने से भूस्खलन का खतरा बना हुआ है। उन्होंने पर्यटकों व लोगों से आग्रह किया कि भूस्खलन वाले स्थानों में वाहन सावधानी पूर्वक चलाएं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *