हिमाचली परिवार में 1500 रुपए सिर्फ एक ही महिला को मिलेंगे, क्या होंगे नियम और शर्तें? पढ़ें

शिमला। हिमाचल में महिलाओं को हर महीने 1500 रुपए देने की घोषणा को पूरा करने के लिए राज्य सरकार द्वारा बनाई गई कैबिनेट सब कमेटी की पहली बैठक शुक्रवार को सब कमेटी के चेयरमैन एवं कैबिनेट मंत्री कर्नल धनीराम शांडिल की अध्यक्षता में हुई। इसमें अन्य दो मंत्री चंद्र कुमार और अनिरुद्ध सिंह भी शामिल थे। बैठक के बाद सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री कर्नल धनीराम शांडिल ने इस योजना को लेकर फार्मूले की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नारी सम्मान योजना को लागू करना सरकार की प्राथमिकता है और 2011 की जनगणना के मुताबिक कुल 6864602 की आबादी में से कुल 3382729 महिलाएं इस प्रदेश में हैं।

प्रदेश सरकार 18 से 59 आयु वर्ग की महिलाओं के लिए प्रतिमा 1500 रुपए प्रदान करेगी, लेकिन इसके लिए पात्रता का फार्मूला भी बनाया जाएगा। आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के अनुसार इस आयु वर्ग में 2022 तक कुल महिलाएं 2240492 थी। मंत्री ने बताया कि पहले चरण में 18 से 25 साल तक की महिलाओं को 1500 देने पर फैसला हो सकता है। लेकिन अंतिम निर्णय कैबिनेट ने लेना है। इसके लिए 75000 रुपये वार्षिक पारिवारिक आय को आधार बनाया जा सकता है। यदि ऐसा हुआ तो पहले चरण में 18 से 25 साल के बीच सिर्फ 228655 महिलाओं को यह पैसे देने पड़ेंगे और वार्षिक व्यय 411 करोड रुपए आएगा।

ऐसा इसलिए क्योंकि इस आयु वर्ग में कुल महिलाओं की संख्या 457309 है, लेकिन आय सीमा की शर्त लगाने के बाद यह संख्या करीब आधी हो जाएगी। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि परिवार में महिलाएं चाहे कितनी हो, यह सम्मान राशि एक परिवार में एक महिला को ही मिलेगी। यदि सभी महिलाओं को यह धनराशि देनी हो तो हर साल 4000 करोड़ चाहिए, जो संभव नहीं लगता। इसलिए पात्रता की बहुत सी शर्तें अभी तय होना बाकी है। सरकार क्या सिर्फ बीपीएल परिवारों के लिए ही ऐसा करेगी? यह भी एक संभावना है। इस योजना को लागू करने के लिए अभी सभी उपलब्ध विकल्पों पर विचार चल रहा है। उसके बाद ही स्कीम फाइनल होगी।

Source Link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *