Himachal Election 2022 Live: हिमाचल में वोटिंग कल, जानिए मतदान से जुड़ी 5 जरूरी बातें

हिमाचल प्रदेश में 2 नवंबर को सुबह 8 बजे से वोटिंग चालू हो जाएगी. वोटों की गिनती 8 दिसंबर को होगी और इसी दिन चुनावी नतीजे घोषित किए जाएंगे. यहां जानिए हिमाचल प्रदेश चुनाव से जुड़ी खास बातें.

Himachal Election 2022 Live: हिमाचल प्रदेश की 68 सीटों पर वोटिंग का काउंट डाउन शुरू हो चुका है. 12 नवंबर को सुबह 8 बजे से वोटिंग चालू हो जाएगी और शाम 5 बजे तक चलेगी. वोटों की गिनती 8 दिसंबर को होगी और इसी दिन चुनावी नतीजे घोषित किए जाएंगे. मतदान को लेकर निर्वाचन आयोग पूरी तरह से मुस्‍तैद है. चुनाव आयोग ने हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh Assembly Election 2022) और गुजरात (Gujarat Assembly Elections 2022) के लिए एग्जिट पोल पर रोक लगा दी है.

हिमाचल प्रदेश और गुजरात चुनाव को लेकर चुनाव आयोग की अधिसूचना जारी की है. इस अधिसूचना के मुताबिक 12 नवंबर को सुबह 8 बजे और 5 दिसंबर को शाम 5.30 बजे के बीच एग्जिट पोल पर बैन लगा दिया गया है. इसके अलावा हिमाचल प्रदेश में होने वाले मतदान के मद्देनजर अब 48 घंटे तक ओपिनियन पोल भी रोक लगा दी गई है. आइए आपको बताते हैं हिमाचल प्रदेश मतदान से जुड़ी जरूरी बातें.

हिमाचल चुनाव से जुड़ी 5 बड़ी बातें

  • हिमाचल प्रदेश में साल 1982 के बाद से हर बार चुनाव में कांग्रेस और बीजेपी के बीच बारी-बारी सत्ता परिवर्तन देखने को मिलता है. तब से कभी किसी सरकार को लगातार दो बार सत्‍ता चलाने का मौका नहीं मिला. 68 में से 23 सीटें ऐसी हैं, जिन्होंने सही मायने में बारी-बारी से सत्‍ता परिवर्तन का एक ट्रेंड सा सेट किया है. इन 23 सीटों पर हर साल विधायक बदल जाते हैं. साल 2012 में कांग्रेस ने बीजेपी को बेदखल किया था और सत्‍ता में आयी थी, वहीं  2017 में बीजेपी ने कांग्रेस को हटाकर अपना कब्जा जमाया था.
  • साल 2012 में कांग्रेस ने कुल 36 सीटों पर जीत हासिल की थी. बीजेपी को 26 सीटें मिली थी. वीरभद्र सिंह मुख्‍यमंत्री बने थे. एक सीट एचएलपी के पास थीं और 5 अन्‍य ने जीती थीं. वहीं साल 2017 में यहां बीजेपी ने 44 सीटें जीतीं, कांग्रेस के हिस्‍से में 21 विधानसभा सीटें आयीं, सीपीएम को एक और दो निर्दलीय खाते में गई. भाजपा की जीत के बाद  जयराम ठाकुर को मुख्‍यमंत्री बनाया गया.
  • हिमाचल में कांगड़ा, मंडी और शिमला, ये तीन जिले ऐसे हैं, जो सत्‍ता का रुख तय करने में बड़ी भूमिका निभाते हैं. हिमाचल के कांगड़ा में सबसे ज्यादा 15 सीटें हैं, वहीं मंडी में 10 और शिमला में आठ सीटें हैं. साल 2017 में इन तीनों बड़े जिलों में से कांगड़ा और मंडी में बीजेपी को एक तरफा जीत मिली थी, वहीं शिमला में कांग्रेस आगे रही थी.
  • हिमाचल प्रदेश 2022 के चुनावों में इस बार भाजपा और कांग्रेस के अलावा आप ने भी अपने प्रत्‍याशियों को मैदान में उतारा है. सभी सीटों के लिए भाजपा, कांग्रेस और आप के उम्‍मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया है. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर 2017 की तरह इस बार भी सिराज सीट से भाजपा उम्मीदवार होंगे. उनके खिलाफ कांग्रेस ने चेतराम ठाकुर को उम्मीदवार बनाया है. हालांकि साल 2017 में भी जयराम ठाकुर के खिलाफ कांग्रेस की ओर से चेतराम को ही मैदान में उतारा गया था और तब उन्‍हें हार का सामना करना पड़ा था.
  • 12 नवंबर को होने वाले चुनावों के लिए निर्वाचन आयोग ने 68 विधानसभा सीटों पर 7,881 मतदान केंद्र स्थापित किए हैं. बता दें हिमाचल में 55 लाख से ज्‍यादा मतदाता हैं. जिसमें से 27 लाख 80 हजार वोटर पुरुष और 27 लाख 27 हजार महिला मतदाता हैं

413 प्रत्याशी चुनाव मैदान में 

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए हिमाचल प्रदेश के 68 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 413 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। 12 नवंबर को होने वाले चुनाव में इनके भविष्य का फैसला होगा। प्रदेश भर में 7,881 मतदान केंद्रों में  मतदान होगा। 8 दिसंबर को नतीजे घोषित होने हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *