हिमाचल के लाहौल में दो जगह बादल फटे, कांगड़ा में भी नहीं थमा बरसात का कहर

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के चलते बुधवार को लाहौल-स्पीति जिले के तोजिंग (रांगवे) नाला और दरेड़ नाले में दो जगह बादल फटने से बहुत भारी नुकसान हुआ है। वहीं, कांगड़ा जिले में खड्ड में बहने और बिजली गिरने से 2 लोगों की मौत हो गई है। बादल फटने से लाहौल के दरेड़ और तोजिंग नाले में बाढ़ से एक पुली, दो बाइक सहित 70 मीटर सड़क बह गई। किन्नौर में सांगला वैली के गंगारंग, सेरिंग्चे और थेमगारंग नाले में बाढ़ आने से दो पैदल चलने वाले पुल बह गए। दो अन्य पुलों को आंशिक रूप से ज्यादा क्षति पहुंची है। पहाड़ी दरकने से मनाली-लेह रास्ता करीब 15 घंटे बंद रहा। प्रदेश में बुधवार शाम तक 82 बिजली ट्रांसफार्मर और 19 पेयजल योजनाएं ठप रहीं। करीब 13 सड़कों पर वाहनों की आवाजाही भी बंद रही। प्रदेश में गुरुवार और शुक्रवार को भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। 

पुलिस थाना गगल के तहत गांव कनेड़ की मनूनी खड्ड में दिल्ली की एक युवती की बहने से मौत हो गई। मृतक युवती की पहचान श्रद्धा (22) पुत्री उत्तम निवासी रोहिणी, दिल्ली के रूप में हुई है। पुलिस के अनुसार बुधवार दोपहर करीब 3:00 बजे गांव कनेड की मनूनी खड्ड में श्रद्धा अपने मंगेतर ओमवीर सिंह व अन्य रिश्तेदारों के साथ गई। खड्ड में अचानक आए तेज बहाव के कारण युवती बहने लगी। रिश्तेदारों के शोर मचाने पर कुछ स्थानीय लोग युवती को बचाने के लिए खड्ड में उतरे और कुछ दूरी पर युवती को निकाल लिया लेकिन तब तक युवती की मृत्यु हो चुकी थी।

उधर, लाहौल घाटी में बारिश होने पर बुधवार करीब 2:30 बजे अचानक नालों में आई बाढ़ से तांदी-उदयपुर-संसारीनाला सड़क यातायात के लिए ठप हो गई। तोजिंग नाले को पार करते समय युवक की बाइक बह गई है। युवक ने बाइक को छोड़ भाग कर अपनी जान बचाई। बाढ़ आने से तोजिंग नाले के आरपार 30 वाहन फंस गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *