हिमाचल विधानसभा बजट सत्र: चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट होंगे अनाथ बच्चे; सदन में पारित होगा सुखाश्रेय विधेयक; फिजूलखर्ची कम करने पर भी चर्चा

हिमाचल विधानसभा बजट सत्र: चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट होंगे अनाथ बच्चे; सदन में पारित होगा सुखाश्रेय विधेयक; फिजूलखर्ची कम करने पर भी चर्चा

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Himachal Vidhan Sabha Budget Session | CM Sukhvinder Sukhu | Himachal Government | Chief Minister Sukhashray Scheme | 

शिमला24 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल विधानसभा के बजट सत्र में आज सुखाश्रय विधेयक 2023 को प्रस्तुत किया जाएगा। इसे सदन में पारित किया जाएगा। विधेयक के पास होते ही इसे राज्यपाल की मंजूरी को भेजा जाएगा और सुखाश्रय योजना प्रदेश में कानून के रूप में लागू हो जाएगी।

इसके तहत अनाथ बच्चों की प्राइमरी से लेकर हायर एजुकेशन, आश्रम में उनकी देखरेख, उनकी विवाह को दो लाख, पॉकेट-मनी, घूमने-फिरने का खर्च, फेस्टिवल पर वित्तीय मदद, लैंड-लेस को मकान के लिए जमीन इत्यादि देने के सभी प्रावधान एक्ट के दायरे में लाए जाएंगे।

ग्राउंड वाटर विधेयक भी सदन में पारित होगा

दूसरा विधेयक ग्राउंड वाटर से जुड़ा हुआ है। इसे पारित करने के लिए सदन में टेबल किया जाएगा। वर्तमान में एक्ट वॉयलेशन करने पर 5 साल की जेल या फिर 10 लाख जुर्माने का प्रावधान है। राज्य सरकार इस एक्ट से पांच साल की सजा का प्रावधान हटाने जा रही है। इसी मकसद से आज विधेयक टेबल किया जाएगा।

भांग की खेती पर भी चर्चा संभावित

भांग के औषधीय गुणों को देखते हुए सदन में इसकी खेती को वैध बनाने को लेकर भी चर्चा हो सकती है। द्रंग से भाजपा विधायक पूर्ण चंद ठाकुर ने इस पर चर्चा का नोटिस दे रखा है।

फिजूलखर्ची रोकने पर भी चर्चा

सेशन के आखिर में प्रदेश की आर्थिकी को मजबूत बनाने, फिजूलखर्ची रोकने व कर्ज के मुद्दे पर कांग्रेस के पांच विधायक चर्चा करेंगे। सदन में गौशाला व गोसैंचुरी निर्माण के लिए नीति बनाने और प्रदेश की यूनिवर्सिटी में श्रीमद भगवत गीता अनुसंदान केंद्र स्थापित करने को लेकर भी चर्चा होगी।

इससे पहले सदन की कार्यवाही प्रश्नकाल से शुरू होगी। बजट सेशन का आज आखिरी दिन है। आज ही सदन की कार्यवाही को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *