हिमाचल में MLA राणा अपनी ही सरकार पर निशाना: बोले- पुलिस भर्ती स्कैम के दोषियों पर कार्रवाई करो, HPSSC को बहाल किया जाए

हिमाचल में MLA राणा अपनी ही सरकार पर निशाना: बोले- पुलिस भर्ती स्कैम के दोषियों पर कार्रवाई करो, HPSSC को बहाल किया जाए

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Shimla: CM Sukhvinder Sukhu Vs Congress MLA Rajendra Rana | Himachal Government | Raised Questions | Himachal Pradesh Staff Selection Commission, Pending Results | Police Constable Recruitment Scam | Himachal Shimla News

शिमला33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल कांग्रेस के दिग्गज नेता एवं सुजानपुर से विधायक राजेंद्र राणा ने अपनी ही सरकार पर सवाल दागे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू को पत्र लिखकर भंग किए गए हिमाचल प्रदेश स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (HPSSC) को बहाल करने, भर्ती परीक्षाओं के लटके हुए रिजल्ट घोषित करने और पूर्व सरकार में हुए पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती स्कैम में दोषी अफसरों पर कार्रवाई की मांग की है।

CM के नाम लिए पत्र में राजेंद्र राणा ने कहा कि लंबे समय से भर्तियों के परिणाम रुके हुए हैं। जिन युवाओं ने परीक्षा उत्तीर्ण की है, वें अब बेचैन हैं और बड़ी बेसब्री से रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं। देरी के कारण कुछ युवा ओवर-एज हो रहे हैं। युवा इस बात से चिंतित हैं कि आयु सीमा लांघने के कारण कहीं वे सरकारी नौकरी के लिए अपात्र ना हो जाएं। उन्होंने मुख्यमंत्री से लटके हुए रिजल्ट जल्द घोषित करने का आग्रह किया है।

HPSSC को बनाया जाए क्रियाशील
कांग्रेस विधायक ने कहा कि HPSSC लंबे समय से बंद पड़ा है। उन्होंने CM से आग्रह कि HPSSC में ईमानदार अधिकारी की तैनाती करके इसे फिर से क्रियाशील बनाया जाए, क्योंकि हजारों युवाओं की उम्मीद इसके साथ जुड़ी हुई जुड़ी हुई हैं।

पुलिस भर्ती स्कैम के दोषियों के खिलाफ की जाए कार्रवाई
राजेंद्र राणा ने कहा कि पूर्व सरकार में पुलिस भर्ती स्कैम हुआ था। इससे हज़ारों युवाओं का भविष्य प्रभावित हुआ है। तब इस मामले को विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस ने सदन में जोर शोर से उठाया था। मगर, अब इस स्कैम पर संजीदगी दिखाने की जरूरत है और प्रदेश के युवाओं की उम्मीदें आप पर हैं। इस भर्ती स्कैम में जो अधिकारी संलिप्त थे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाए।

करुणामूलक आधार पर पात्र को दी जाए नौकरी
राणा ने कहा कि पूर्व सरकार के समय से हजारों युवा करुणामूलक आधार पर नौकरी पाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। हमने भी विपक्ष में रहते हुए लगातार उनके हक की आवाज़ उठाई थी। उनके पक्ष में फैसला किया जाना समय की मांग है। युवाओं की नजरें आप पर टिकी हुई हैं। उम्मीद है कि आप इस बारे सहानुभूति पूर्वक निर्णय लेकर पैसे युवाओं का भविष्य सुरक्षित रखेंगे।

फर्जी डिग्री मामले में की जाए कार्रवाई
प्रदेश में फर्जी डिग्री के माध्यम से युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ होने का मामला अभी तक ठंडा नहीं पड़ा है। जांच लंबी खिंचती रही है जिस तरह यह मामला CBI को दिया जाना चाहिए था, उस बारे पूर्व सरकार अपनी इच्छाशक्ति नहीं दिखा पाई थी और अब आपके नेतृत्व पर हमें पूरा भरोसा है कि आप इस वारे कड़ा फैसला लेंगे।

आउटसोर्स कर्मचारियों को दिलाया जाए न्याय
राणा ने कहा कि आउटसोर्स कर्मचारियों को न्याय दिए जाने का मुद्दा भी हम विपक्ष में रहते हुए सदन में उठाते रहे हैं। इन आउटसोर्स कर्मियों को अब आपसे न्याय की उम्मीद है। आपसे आग्रह है कि इस बारे भी उचित निर्णय लिया जाए। उन्होंने कोविड महामारी के दौर में सेवाएं देने वाली नर्सिंग स्टाफ के भविष्य को सुरक्षित बनाने का भी आग्रह किया।

यहां पढ़े राजेंद्र राणा द्वारा CM सुक्खू को लिखा पत्र…

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *