हिमाचल में रात को ड्राइविंग होगी आसान: PWD मंत्री बोले- नाइट ग्लो पेंट से हादसों में आएगी कमी, कई यूरोपीय देश कर रहे इसका इस्तेमाल

हिमाचल में रात को ड्राइविंग होगी आसान: PWD मंत्री बोले- नाइट ग्लो पेंट से हादसों में आएगी कमी, कई यूरोपीय देश कर रहे इसका इस्तेमाल

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Use Of Night Glow Paint On Dangerous Roads In Himachal | PWD Minister Vikramaditya Singh | Black Spot | Road Accidents | Public Works Department | Himachal Government

शिमला8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल प्रदेश की खतरनाक सड़कों पर नाइट ग्लो पेंट का प्रयोग किया जाएगा। इससे ड्राइवर रात को आसानी से सड़क का अंदाजा लगा सकेंगे और उनके लिए गाड़ी चलाना आसान होगा। PWD मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने पत्रकार वार्ता में कहा कि इस टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से सड़क हादसों में कमी आएगी।

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि नाइट ग्लो पेंट में फोटो ल्यूमिनस होता है। इससे वह सड़क पर रेडियम की तरह चमकता है। वर्तमान में इस तकनीक का इस्तेमाल कई यूरोपीय देशों और ऑस्ट्रेलिया में किया जा रहा है। इसे देखते हुए उन्होंने विभाग को इस तकनीक के इस्तेमाल के निर्देश दे दिए हैं।

PWD मंत्री ने कहा कि प्रदेश के कई क्षेत्रों में खासकर बारिश में धुंध की वजह से गाड़ी ड्राइव करना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में यह काफी मददगार साबित हो सकता है। पहाड़ी राज्य हिमाचल में इसके इस्तेमाल से ड्राइवर को अपनी लेन में चलने में आसानी होगी।

अभी पायलट प्रोजेक्ट करेंगे शुरू
विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि अभी कुछ सड़कों पर नाइट ग्लो पेंट का पायलट प्रोजेक्ट शुरू करेंगे। इसका प्रयोग सफल रहा तो आने वाले सालों में हिमाचल की सभी सड़कों पर इसका प्रयोग किया जाएगा।

हर साल 2 हजार से ज्यादा सड़क हादसे
हिमाचल में हर साल 2 से 3 हजार सड़क हादसे हो रहे हैं। साल 2017 में 3114 रोड एक्सीडेंट में 1203 लोगों की मौत हुई। 2022 में 2597 हादसों में 1032 लोगों की जान गई थी। 2017 में 5400 लोग और 2022 में 4100 लोग घायल हुए हैं। इन हादसों में ही कमी लाने के मकसद से नाइट ग्लो पेंट का इस्तेमाल किया जाएगा।

प्रदेश में 6509 ब्लैक स्पॉट
हिमाचल में अब तक कुल 6509 ब्लैक स्पॉट चिह्नित हैं। इनमें से 5350 खतरनाक पॉइंट को दुरुस्त कर लिया गया है। शेष पर अभी काम चल रहा है।

CBSE के पाठ्यक्रम में छेड़छाड़ पर साधा निशाना
विक्रमादित्य सिंह ने CBSE द्वारा पाठ्यक्रम में छेड़छाड़ को लेकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि इस सच्चाई को नहीं झुठलाया जा सकता कि देश के तत्कालीन गृह मंत्री सरदार पटेल ने RSS पर बैन लगाया था। इसे टैक्सट बुक से हटाने से इतिहास बदलने वाला नहीं है। इस नजरिए और राजनीति के आधार पर इतिहास से छेड़छाड़ करना सही नहीं है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *