हिमाचल में बंद हाईवे जल्द बहाल करने के निर्देश: इंटरनेशनल कुल्लू दशहरा से पहले मंडी-मनाली फोरलेन चालू हो; CM की NHAI अफसरों से मीटिंग

हिमाचल में बंद हाईवे जल्द बहाल करने के निर्देश: इंटरनेशनल कुल्लू दशहरा से पहले मंडी-मनाली फोरलेन चालू हो; CM की NHAI अफसरों से मीटिंग


  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Shimla: Restore All The Highways Of Himachal | CM Sukhvinder Sukhu Direct NHAI | NH Damage | Torrential Rains And Landslides | Mandi Kullu Four lane | Shimla Mataur Four Lane | Himachal Shimla Kullu Mandi News

शिमलाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू NHAI और प्रदेश के अधिकारियों के साथ आयोजित मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए

हिमाचल के मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू ने इंटरनेशनल कुल्लू दशहरा के दृष्टिगत मंडी-मनाली फोरलेन 15 अक्टूबर तक हर हाल में बहाल करने के निर्देश दिए। समस्या के स्थायी समाधान के लिए उन्होंने आने वाले समय में मंडी जिले में कैंची मोड़ के नीचे सुरंग बनाने की संभावनाएं तलाशने को कहा।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) अधिकारियों को आयोजित मीटिंग में CM ने मंडी-कुल्लू हाईवे के अलावा राज्य के दूसरे सभी NH जल्द दुरुस्त करने को कहा। इसके लिए उन्होंने अतिरिक्त मशीनरी और लेबर तैनात करने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सेब सीजन चल रहा है और किसानों की फसलें तैयार है। इन्हें समय पर मंडियों तक पहुंचाने को सड़कें जल्द बहाल की जाए।

घटासनी-शिल्ह-बुधाणी-भुभु जोत सुरंग का किया जाए निर्माण
सुक्खू ने कहा कि कांगड़ा और कुल्लू घाटी को जोड़ने के लिए घटासनी-शिल्ह-बुधाणी-भुभु जोत सुरंग का निर्माण किया जाना चाहिए। यह सुरंग न केवल पर्यटन की दृष्टि से वरदान साबित होगी, बल्कि इसका सामरिक महत्व भी है, क्योंकि इससे कांगड़ा से मनाली के बीच की दूरी लगभग 55 किलोमीटर कम हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि चंबा जिले में चुवाड़ी-चंबा सुरंग और भावा घाटी से पिन घाटी को जोड़ने वाली सुरंग राज्य के लिए सबसे महत्वपूर्ण हैं क्योंकि ये सुरंगें पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के अलावा सभी मौसमों में सड़क सम्पर्क बनाए रखने में सहायक होंगी।

शिमला-मटौर फोरलेन निर्माण में लाई जाए तेजी
CM ने शिमला-मटौर फोरलेन के निर्माण कार्य में तेजी लाने को कहा। इससे प्रदेश के 8 जिलों को लाभ होगा। उन्होंने कहा कि सड़क के सौंदर्यीकरण में बढ़ोतरी के लिए निर्धारित मानकों के अनुरूप अथवा पांच मीटर का मध्याह्न सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

परवाणू-सोलन फोरलेन की कटिंग की तकनीक में सुधार करें
सुखविंदर सुक्खू ने NHAI अधिकारियों के साथ परवाणु-सोलन फोरलेन की चर्चा करते हुए कहा कि ढलानों में बेहतर स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए इनकी कटाई तकनीकी रूप से की जाए। उन्होंने कहा कि NHAI को राजमार्गों पर ड्रेनेज और क्रॉस ड्रेनेज का निर्माण कर पानी की उचित निकासी सुनिश्चित करनी चाहिए।

उन्होंने सोलन जिले के बद्दी क्षेत्र में क्षतिग्रस्त हुए दो पुलों के रैस्टोरेशन में तेजी लाने, नालागढ़-भरतगढ़ सड़क को फोरलेन बनाने, पूरे पठानकोट-मंडी NH को फोरलेन बनाने पर बल दिया।

NHAI चेयरमैन बोले- जल्द बहाल होंगे हाईवे
NHAI के चेयरमैन संतोष कुमार यादव ने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि प्राधिकरण जल्द NH को स्थायी रूप से बहाल करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा। इस दौरान CPS संजय अवस्थी, मुख्य सचिव प्रबोध सक्सेना, प्रधान सचिव PWD भरत खेड़ा, प्रधान सचिव परिवहन आरडी नजीम, प्रधान सचिव वित्त मनीष गर्ग, विशेष सचिव PWD हरबंस सिंह ब्रसकॉन, प्रोजेक्ट डायरेक्टर NHAI अब्दुल बासित इत्यादि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *