हिमाचल में कांग्रेस MLA के विदेश टूर पर घमासान: HDP प्रोजेक्ट पर BJP-बागवानों ने सरकार को घेरा; विरोध के बाद मंत्री नेगी बोले- अफसर जाएंगे

हिमाचल में कांग्रेस MLA के विदेश टूर पर घमासान: HDP प्रोजेक्ट पर BJP-बागवानों ने सरकार को घेरा; विरोध के बाद मंत्री नेगी बोले- अफसर जाएंगे


  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Shimla: Clash Over Congress MLA’s Foreign Tour | BJP And Apple Growers Surrounded Government | Horticulture Officers Going To Servia | Himachal Shimla News

शिमला42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस के 3 विधायकों को बागवानी विकास प्रोजेक्ट (HDP) के तहत विदेश भेजने पर बवाल मच गया है। दरअसल, भाजपा नेता संदीपनी भारद्वाज ने नॉन-एपल बेल्ट के 3 कांग्रेस विधायकों को सैर सपाटा पर भेजने और सरकारी धन के दुरुपयोग के आरोप लगाए थे।

इसे लेकर प्रदेशभर में सरकार की किरकिरी हो रही है। सेब बागवान सरकार के इस निर्णय का विरोध कर रहे हैं। इस बीच बागवानी मंत्री जगत सिंह नेगी ने स्पष्ट किया कि कोई भी विधायक विदेश टूर पर नहीं जाएगा, बल्कि बागवानी अधिकारियों को भेजा जाएगा।

भाजपा नेता ने आरोप लगाया था कि बागवानी विकास प्रोजेक्ट के तहत बड़सर से कांग्रेस विधायक इंद्र दत लखनपाल, अर्की के विधायक संजय अवस्थी और नाहन के विधायक अजय सोलंकी को विदेश भेजा जा रहा है। उन्होंने इस मामले में मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू से हस्तक्षेप की मांग की थी।

सर्बिया जाएंगे 36 बागवानी अधिकारी
बागवानी विभाग की माने तो HDP प्रोजेक्ट के तहत अब 36 बागवानी प्रसार अधिकारी, बागवानी विकास अधिकारी, सब्जेक्ट मैटर स्पेशलिस्ट को सर्बिया भेजा रहा है। इसकी क्लीयरैंस की फाइल प्रदेश सरकार को भेज रखी है। सरकार की हरी झंडी मिलते ही तीन दर्जन अधिकारियों को सर्बिया भेजा जाएगा।

बताया जा रहा है कि सर्बिया का प्लाटिंग मैटीरियल और नर्सरी दुनिया में बेहतर मानी जाती है। इसलिए एक साथ इतने अधिकारी सर्बिया भेजे जा रहे है। इनका टूर HDP प्रोजेक्ट के तहत कराया जा रहा है। सात-आठ महीने बाद यह प्रोजेक्ट भी खत्म हो रहा है।

बागवानों ने उठाए सवाल
HDP प्रोजेक्ट को लागू हुए 5 साल से ज्यादा वक्त बीत गया है। मगर इस दौरान एक भी बागवान को इस प्रोजेक्ट में एक्सपोजर विजिट नहीं कराया गया, जबकि नेताओं व अधिकारियों के चार से पांच टूर कर दिए गए है। इसलिए प्रोजेक्ट पर सवाल खड़े होने लगे है। इससे बागवानों में भी सरकार के प्रति रोष पनपता जा रहा है।

बागवानों को एक्सपोजर विजिट कराने की मांग
प्रोग्रेसिव ग्रोबर एसोसिएशन (PGA) के उपाध्यक्ष आशुतोष चौहान ने बताया कि एक्सपोजर टूर पर बागवानों को भी साथ ले जाना चाहिए। अब तक नेता-अफसर कई टूर कर चुके हैं। इनमें कुछ लोग रिटायर भी हो गए। ऐसे एक्सपोजर टूर का फायदा बागवानों को तब होगा यदि अफसरों के टूर के बाद बागवानों के साथ इनकी इंट्रेक्शन होनी चाहिए, लेकिन आज तक एक बार भी ऐसा नहीं किया गया।

सैर-सपाटा साबित हो रहे नेता-अफसरों के टूर
प्रोग्रेसिव ग्रोबर एसोसिएशन (PGA) के अध्यक्ष लोकेंद्र बिष्ट ने कहा कि पिछली सरकार में भी नेताओं-अफसरों ने ही टूअर किए। इस सरकार में भी जा रहे हैं, लेकिन फॉर्मर को कोई फायदा नहीं हुआ। ऐसे टूर के बाद बागवानों के साथ सेमिनार होने चाहिए ताकि इन्होंने जो टूर में सीखा बागवानों को उसका फायदा मिल सके। इसलिए यह टूर एक्पोजर कम सैर-सपाटा ज्यादा है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *