हिमाचल में कल से कमजोर पड़ेगा मानसून: अगस्त में 10% ज्यादा बरसात; मंडी-कुल्लू फोरलेन बंद, 3 दिन से शेष दुनिया से कटा कुल्लू, 350 वाहन जगह-जगह फंसे

हिमाचल में कल से कमजोर पड़ेगा मानसून: अगस्त में 10% ज्यादा बरसात; मंडी-कुल्लू फोरलेन बंद, 3 दिन से शेष दुनिया से कटा कुल्लू, 350 वाहन जगह-जगह फंसे

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Himachal Weather Forecast Update; Monsoon Week | Rain Alert | Chandigarh Kullu Four Lane Closed | Himachal Shimla News

शिमला2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
भारी बारिश के बाद IGMC शिमला के स्पैशल वार्ड से टपक रहा पानी - Dainik Bhaskar

भारी बारिश के बाद IGMC शिमला के स्पैशल वार्ड से टपक रहा पानी

हिमाचल प्रदेश में तबाही मचाने के बाद मानसून कल से कमजोर पड़ेगा। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला की मानें तो अगले 30 अगस्त तक कुछेक क्षेत्रों में ही हल्की बारिश का पूर्वानुमान है।

IMD ने आज के लिए यलो अलर्ट दिया है। ​​​​​​चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, मंडी, शिमला, सोलन और सिरमौर के एक-दो स्थानों पर तेज बारिश हो सकती है। ज्यादातर क्षेत्रों में इस दौरान मौसम साफ या आसमान में हल्के बादल छाए रहेंगे। इससे प्रदेशवासियों को भारी बारिश से राहत मिलने के आसार है।

प्रदेश में बीते 21 और 22 अगस्त की बरसात से जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित हुआ है। भारी बारिश के कारण चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे सहित 742 सड़कें वाहनों की आवाजाही के लिए बंद पड़ी है। इससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

कुल्लू व लाहौल स्पीति शेष दुनिया से कटा संपर्क

कुल्लू और लाहौल स्पीति जिले का तीन दिन से शेष दुनिया से संपर्क कटा हुआ है, क्योंकि मंडी से कुल्लू को जोड़ने वाला फोरलेन और अल्टरनेटिव रोड़ भी तीन दिन से जगह-जगह लैंडस्लाइड के कारण बंद पड़ा है।

मंडी में जगह-जगह फंसे 350 वाहन

कटोला होते हुए अल्टरनेटिव सड़क के आज दोपहर तक खुलने की उम्मीद है। इस वजह से मंडी में 350 से ज्यादा छोटी-बड़ी गाड़ियां जगह जगह फंसी हुई है।

अच्छी बात यह है कि स्थानीय प्रशासन ने गाड़ियों में फंसे लोगों के लिए निशुल्क खाने की व्यवस्था की है। इनमें ज्यादातर माल वाहक गाड़ियां है जो कुल्लू-मनाली और लाहौल स्पीति के लिए सामान लेकर जा रहे हैं।

इन 4 जिलों में नॉर्मल से कम बारिश

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार, अगस्त महीने में प्रदेश में नॉर्मल से 10 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है। चंबा में नॉर्मल से 36 फीसदी कम, लाहौल स्पीति में 95 फीसदी कम, किन्नौर में 69 फीसदी और सिरमौर जिले 26 फीसदी में बारिश नॉर्मल से कम हुई है।

8 जिलों में नॉर्मल से ज्यादा बरसात

प्रदेश के आठ जिलों में नॉर्मल से ज्यादा बरसात हुई। बिलासपुर जिले में नॉर्मल से 117 फीसदी, मंडी में 101 फीसदी, शिमला में 51 फीसदी, सोलन व हमीरपुर में 86 फीसदी, कांगड़ा में 30 फीसदी और ऊना में 6 फीसदी नॉर्मल से ज्यादा मेघ बरसे है।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *