मनाली से रोहतांग दौड़ेंगी सिर्फ 1000 गाड़ियां: NGT ने खारिज किया ‘हिम आंचल’ का 2017 के आदेशों में संशोधन करने आवेदन, ट्रैक्सी ड्राइवर निराश

मनाली से रोहतांग दौड़ेंगी सिर्फ 1000 गाड़ियां: NGT ने खारिज किया ‘हिम आंचल’ का 2017 के आदेशों में संशोधन करने आवेदन, ट्रैक्सी ड्राइवर निराश

[ad_1]

मनाली9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल प्रदेश में अब मनाली से रोहतांग दर्रा तक सिर्फ एक हजार गाड़ियां जा सकेंगी। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने हिम आंचल टैक्सी यूनियन का आवेदन खारिज कर दिया है। यूनियन ने मनाली से रोहतांग के लिए 5 हजार वाहन चलाने की अनुमति मांगी थी। वर्ष 2017 में पारित आदेशों को संशोधित करने के लिए यूनियन ने आवेदन किया था।

ट्रिब्यूनल के समक्ष यूनियन की ओर से दलील दी गई थी कि गुलाबा, मढ़ी और रोहतांग दर्रे पर अधिक पार्किंग स्थल है। पर्यटन गतिविधियों में वृद्धि के कारण ट्रिब्यूनल की ओर से स्वीकृत किए गए वाहनों की संख्या पर्याप्त नहीं है। ऐसे में मनाली और रोहतांग के बीच प्रतिदिन 5 हजार वाहनों को आवाजाही करने की अनुमति दी जाए।

ट्रिब्यूनल ने इसलिए आवेदन खारिज किया
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने आवेदन को खारिज करते हुए कहा कि ग्लेशियर, जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण पर प्रतिकूल प्रभाव के कारण वाहनों की आवाजाही को बढ़ाया नहीं जा सकता है। हवा की गुणवत्ता का बेहतर होना वाहनों के आंकड़ों को बढ़ाने के लिए कोई आधार नहीं है। ट्रिब्यूनल ने कहा कि पर्याप्त पार्किंग स्थल की उपलब्धता होना उस स्थिति को नहीं बदल सकता, जिसके लिए वाहनों की आवाजाही कम करने के आदेश दिए गए थे।

वर्ष 2010 में हाईकोर्ट ने लिया था संज्ञान
वर्ष 2010 में मुख्य न्यायधीश के नाम लिखे गए पत्र पर उच्च न्यायालय ने संज्ञान लिया था। पत्र में आरोप लगाया गया था कि रोजाना 4 से 5 हजार वाहन मनाली से रोहतांग दर्रे के लिए आवाजाही कर रहे हैं, जिससे पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है। NGT के गठन के बाद हाईकोर्ट ने यह मामला नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल को भेज दिया था। ट्रिब्यूनल ने राज्य के अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी और 6 फरवरी 2014 को एक हजार वाहनों को भेजने की स्वीकृति प्रदान की गई थी।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *