भविष्य में विदेशी निवेश भी होने की उम्मीद: भांग की खेती वैध करने से पहले उत्तराखंड व एमपी जाएगी कमेटी

भविष्य में विदेशी निवेश भी होने की उम्मीद: भांग की खेती वैध करने से पहले उत्तराखंड व एमपी जाएगी कमेटी

[ad_1]

शिमला42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल सरकार लोगों की आजीविका के अवसर पैदा करने और राजस्व अर्जित करने की दृष्टि से भांग की खेती का गैर-मादक उपयोग करने की योजना पर आगे बढ़ रही है। यह बात विधानसभा में भांग की खेती को वैध करने के लिए राजस्व मंत्री जगत सिंह नेगी ने कमेटी की बैठक के दौरान कही।

मंत्री ने कहा कि समिति पर्यावरणीय प्रभावों पर ध्यान देने के साथ राज्य में विभिन्न पहलुओं का विश्लेषण करेगी। इसमें भविष्य में विदेशी निवेश भी होने की उम्मीद है। दवा उद्योग, आयुर्वेद, कपड़ा, खाद्य पदार्थ और सौंदर्य प्रसाधन जैसे विभिन्न उद्योगों में भांग के फाइबर, बीज, पत्ती इत्यादि से कई उच्च मूल्य वाले उत्पाद बनाए जा सकते हैं।

जगत सिंह नेगी ने कहा कि समिति ने भांग की वैध खेती से संबंधित नियमों एवं उनके प्रभाव का विश्लेषण करने के लिए उत्तराखंड और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों का दौरा करने की भी योजना बनाई है। अधिवक्ता देवेन खन्ना ने इस अवसर पर भांग के पौधे के गैर-मादक उपयोग और इसके लाभों के बारे में विस्तार से अवगत करवाया।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *