प्रियंका गांधी का PM नरेंद्र मोदी को लेटर: हिमाचल को आर्थिक मदद; केदारनाथ त्रासदी की तर्ज पर राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग

प्रियंका गांधी का PM नरेंद्र मोदी को लेटर: हिमाचल को आर्थिक मदद; केदारनाथ त्रासदी की तर्ज पर राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग


  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Priyanka Gandhi Written Letter To Prime Minister Narendra Modi | Urged PM To Declare National Disaster | Provide Financial Assistance | Himachal Shimla News

शिमला14 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल प्रदेश से लौटने के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने प्रधानमंत्री से हिमाचल को आपदा की इस घड़ी में आर्थिक मदद देने का आग्रह किया और साल 2013 में केदारनाथ त्रासदी की तर्ज पर हिमाचल में भी राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की है।

उन्होंने कहा कि देवभूमि हिमाचल में प्राकृतिक आपदा से भारी तबाही हुई है। पहाड़ के लोग अभूतपूर्व संकट का सामना कर रहे हैं। पिछले दिनों वह शिमला, कुल्लू, मनाली और मंडी में आपदा पीड़ितों से मिली। हर तरफ हुई तबाही देखकर बहुत दुख हुआ।

प्रियंका गांधी का यह पत्र वेस्ट उत्तर प्रदेश कांग्रेस सेवादल के ट्विटर अकाउंट से भी पोस्ट किया गया है। यह लेटर सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। दैनिक भास्कर इसकी पुष्टि नहीं करता।

प्रियंका गांधी द्वारा PM मोदी को लिखा गया पत्र, जो सोशल मीडिया में भी वायरल हो रहा है

प्रियंका गांधी द्वारा PM मोदी को लिखा गया पत्र, जो सोशल मीडिया में भी वायरल हो रहा है

428 लोग गंवा चुके जान
अब तक इस आपदा में 428 लोगों ने जान चली गई है। कई ऐसे परिवार हैं जिनके सभी सदस्य इस आपदा में संसार छोड़ गए है। राज्य में 16,000 से ज्यादा पालतू मवेशी भी इस आपदा का शिकार हुए हैं। इनमें 10,000 से अधिक पोल्ट्री बर्ड और 6,000 से अधिक गाय, भैंस व अन्य पालतू जानवर हैं।

13,000 से ज्यादा घर और मकान पूरी तरह या आंशिक रूप क्षतिग्रस्त हुए हैं। शिमला से परवाणू NH और कुल्लू-मनाली-लेह हाईवे पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं। प्रदेश में भारी बारिश से करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है। इस तबाही से निपटने के लिए राज्य सरकार अपने स्तर पर हर संभव प्रयास कर रही है।

छोटे बच्चे गुल्लक से राहत कोष में दान कर रहे: प्रियंका
प्रियंका गांधी ने लिखा कि हिमाचल की जनता को राज्य सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर संकट का सामना करते हुए देखा है। लोग श्रमदान करके सड़कें बहाल कर रहे हैं। छोटे-छोटे बच्चे अपने गुल्लक से दान देकर मुख्यमंत्री राहत कोष में सहायता कर रहे हैं। PM को लिखे पत्र में प्रियंका ने आगे लिखा की पहाड़ों की जनता की इस भावना को देखते हुए उन्होंने पत्र लिखने का फैसला किया।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *