पधर में मिनी सचिवालय में आग लगी: लाइसेंस ब्रांच का रिकॉर्ड जला; SDM सुरजीत सिंह ने जान पर खेलकर बुझाने का साहस दिखाया

पधर में मिनी सचिवालय में आग लगी: लाइसेंस ब्रांच का रिकॉर्ड जला; SDM सुरजीत सिंह ने जान पर खेलकर बुझाने का साहस दिखाया

[ad_1]

पधरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी के पधर स्थित मिनी सेक्रेटरिएट में शनिवार सुबह अचानक आग भड़क गई। आग बिल्डिंग के फर्स्ट फ्लोर में लगी, जिसमें लाइसेंस ब्रांच का रिकॉर्ड और कंप्यूटर प्रिंटर आदि जलकर राख हो गए। आग लगने का पता चलते ही SDM सुरजीत सिंह स्वयं मौके पर पहुंचे।

उन्होंने जान की परवाह किए बिना दरवाजे को तोड़ने के बाद लेट कर कमरे में प्रवेश किया और फायर हाइड्रेंट से आग बुझाने में जुट गए। इतने में स्थानीय ग्रामीण, किसान मेला में आए व्यापारी और तहसील तथा कार्यालय के कर्मचारी मौके पर पहुंचे।

रिकॉर्ड रूम में बचा सामान समेटते कर्मचारी।

रिकॉर्ड रूम में बचा सामान समेटते कर्मचारी।

दमकल गाड़ियां मौके पर नहीं पहुंच पाई
फायर ब्रिगेड का वाहन तंग सड़क होने के कारण घटनास्थल पर नहीं पहुंच पाया। ऐसे में अग्निशमन कर्मचारियों ने पाइप से पानी का छिड़काव करके आग पर काबू पाया। SDM सुरजीत सिंह ने कहा कि धुआं उठता देख स्थानीय पंचायत प्रधान ने घटना के बारे में अवगत करवाया। वह स्वयं मौके पर पहुंचे। कमरे के भीतर कोने में भड़क चुकी आग के चलते लेट कर कमरे में प्रवेश किया तो देखा कि लाइसेंस ब्रांच पूरी तरह भड़क चुकी थी।

घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीण, व्यापारी और कर्मचारी।

घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीण, व्यापारी और कर्मचारी।

शॉर्ट सर्किट से भड़की आग
SDM ने बताया कि उन्हाेंने किनारे से फायर हाइड्रेंट उठाकर आग पर काबू पाया। इतने में बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंचे। लाइसेंस ब्रांच के रिकॉर्ड के साथ-साथ कंप्यूटर प्रिंटर आदि कीमती सामान जलकर राख हो गया है। आग लगने का कारण कंप्यूटर के एक्सटेंशन बोर्ड में शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। बहरहाल पुलिस घटना की छानबीन में जुट गई है।

घटनास्थल पर जुटे ग्रामीण और व्यापारी।

घटनास्थल पर जुटे ग्रामीण और व्यापारी।

करीब 6 लाख रुपए का नुकसान
SDM ने बताया कि प्रथम दृष्टया हादसे में करीब 6 लाख रुपए तक नुकसान का आंकलन किया जा रहा है, जिसकी पूरी तफ्तीश की जा रही है। उल्लेखनीय है कि पधर में आज से 5 दिवसीय जिला स्तरीय किसान मेला शुरू हो रहा है। बड़ी संख्या में व्यापारी यहां मेले में आए हुए हैं, जिनकी मदद से आग पर आसानी से काबू पा लिया गया। अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *