नेता प्रतिपक्ष बोले-BJP विधायकों के फोन टेप हो रहे: हिमाचल विधानसभा सत्र में ठेकेदारों की पेमेंट पर नोक-झोंक; सदन से बाहर गया विपक्ष

नेता प्रतिपक्ष बोले-BJP विधायकों के फोन टेप हो रहे: हिमाचल विधानसभा सत्र में ठेकेदारों की पेमेंट पर नोक-झोंक; सदन से बाहर गया विपक्ष

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Shimla: BJP MLA Phone Tapping | Clash In Himachal Assembly | Walk Out | Squabbling Between Ruling Party And The Opposition | Himachal Vidhansabha | Himachal Shimla News

शिमला3 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
सदन में वक्तव्य देते हुए मुख्यमंत्री सुक्खू - Dainik Bhaskar

सदन में वक्तव्य देते हुए मुख्यमंत्री सुक्खू

विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान सदन के बाहर नेता प्रतिपक्ष जय राम ठाकुर ने सुक्खू सरकार पर बड़ा आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि BJP विधायकों के फोन टेप किए जा रहे हैं। यह परंपरा अच्छी नहीं है। उन्होंने कहा कि सदन के भीतर मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू भी इसका जवाब नहीं दे पाए।

जयराम ने कहा कि मुख्यमंत्री को इसका स्पष्टीकरण दें। उन्होंने कहा कि जानकारी हासिल करने के बाद यह बात कर रहे हैं। और लोग भी कह रहे हैं कि उनके फोन भी टेप हो रहे हैं। वहीं संसदीय कार्य मंत्री एवं इंडस्ट्री मिनिस्टर हर्ष वर्धन चौहान ने इन आरोपों को गलत बताते हुए कहा कि केंद्र सरकार उनके भी फोन टेप करवा रही है।

ठेकेदारों की पेमेंट पर तपा सदन

इससे पहले सदन में ठेकेदारों की पेमेंट को लेकर तीखी नोक झोंक हुई। बाद में विपक्ष के विधायक सदन से उठकर बाहर चले गए। स्पीकर कुलदीप सिंह पठानिया ने कहा कि विपक्ष का सदन से बाहर जान गैर जरूरी है।

सदन में वक्तव्य देते हुए मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू

सदन में वक्तव्य देते हुए मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू

दरअसल, BJP विधायक रणधीर शर्मा ने सदन में PWD और जल शक्ति विभाग की पेमेंट में कट लगाने से जुड़ा सवाल पूछा था। उन्होंने अनुपूरक सवाल करते हुए सरकार पर जानकारी छिपाने का आरोप लगाया।

जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी ठेकेदार की पेमेंट नहीं रोकी गई। इस पर रणधीर शर्मा पहले दो बार अनुपूरक सवाल पूछ चुके थे। दोनों बार CM जवाब दे चुके थे और जब तीसरी बार वह जवाब देने जा रहे थे तो नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने अनुपूरक सवाल करना चाहा।

क्या सीट पर स्प्रिंग लगे

इस पर मुख्यमंत्री सुक्खू ने कहा कि क्या सीट पर स्प्रिंग लगे हैं। इस पर विपक्ष भड़क गया। इससे पहले रणधीर शर्मा ने कहा कि सरकार जानकारी छिपा रही है। वित्त वर्ष 2021-22 का सरकार ने PWD और जल शक्ति विभाग का बजट रोका है। दोनों विभाग ठेकेदारों की पेमेंट नहीं दे पा रहे। इससे ठेकेदार भी अपने मजदूर को दिहाड़ी नहीं दे पा रहे।

सदन में CM सुक्खू और नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर

सदन में CM सुक्खू और नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर

BJP में लीडरशिप का क्राइसिज: अग्निहोत्री

डिप्टी CM मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि भाजपा में लीडरशिप का क्राइसिज पैदा हो गया है। मुख्यमंत्री पर झूठी सूचना देने का आरोप लगाना असंसदीय है। उन्होंने विपक्ष के व्यवहार की निंदा की।

हमने कोई पेमेंट नहीं रोकी: CM

मुख्यमंत्री सुक्खू ने नेता प्रतिपक्ष को कंफ्यूज्ड बताया। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार की अंतिम तिमाही का PWD का 171 करोड़, जल शक्ति विभाग का 143 करोड़ खर्च नहीं हो पाया। इसका मतलब यह नहीं कि खत्म हो गया। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार तिजोरी खाली करके गई। इसलिए व्यवस्था सुधारने में वक्त लग रहा है। विपक्ष को इस तरह चर्चा से नहीं भागना चाहिए।

सदन को किया जा रहा गुमराह:जयराम

सदन से बाहर जाने के बाद जयराम ठाकुर ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सदन को गुमराह किया जा रहा है और गलत तथ्य पेश किए जा रहे हैं। PWD और IPH को आवंटित बजट वापस लिया जा रहा है। इससे ठेकेदारों को पेमेंट नहीं मिल पा रही।

पशुओं को बेसहारा छोड़ने के लिए हो सजा का प्रावधान: भवानी

फतेहपुर के विधायक भवानी सिंह पठानिया ने पशुओं को बेसहारा छोड़ने को लेकर कड़ी सजा देने को लेकर संकल्प प्रस्ताव सदन में लाया। उन्होंने ने कहा कि सरकार को इस समस्या का समाधान निकालने के लिए इसकी तह तक जाना जरूरी है। छोटे कृषक जंगली जानवरों की वजह से खेती बाड़ी छो़ड़ रहे हैं।

प्रदेश में बेसहारा पशुओं की संख्या विकराल हो रही है और उनके कारण भी खेती बाड़ी की नुकसान हो रहा है। इस वजह से कई बार सड़क दुर्घटनाएं भी हो रही हैं। आमतौर पर इसके बेसहारा पशुओं की समस्या के लिए लिए गौशाला बनाने का समाधान देखा जाता है, लेकिन हम कितनी भी गौशालाएं बना लें, वे कम पड़ेंगी।

इस संकल्प पर देहरा से विधायक होशियार सिंह, केवल सिंह पठानिया, चैतन्य शर्मा और इंद्रदत्त लखनपाल ने भी सख्त प्रावधान करने की मांग उठाई।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *