चिंतपूर्णी मेले में कॉमर्शियल वाहनों पर रहेगा प्रतिबंध: होशियारपुर ADC ने अधिकारियों संग बैठक कर दिए निर्देश; DJ बजाने पर भी रहेगी रोक

चिंतपूर्णी मेले में कॉमर्शियल वाहनों पर रहेगा प्रतिबंध: होशियारपुर ADC ने अधिकारियों संग बैठक कर दिए निर्देश; DJ बजाने पर भी रहेगी रोक


होशियारपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

अधिकारियों संग बैठक करते होशियारपुर एडीसी राहुल चाबा।

पंजाब के होशियारपुर अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर राहुल चाबा ने 17 अगस्त से शुरू होने वाले माता चिंतपूर्णी मेले संबंधी आज अधिकारियों के साथ जिला प्रशासकीय कॉम्प्लेक्स में बैठक की। बैठक के दौरान उन्होंने अलग-अलग विभागों को निर्देश दिए कि मेले के सुचारू संचालन में वह लंगर कमेटियों के साथ तालमेल बनाकर काम करें। यकीनी बनाएं कि श्रद्धालुओं को किसी तरह की कोई दिक्कत न आए।

इस दौरान उनके साथ IAS ट्रेनी दिव्या पी, SP (मुख्यालय) मंजीत कौर, एसडीएम होशियारपुर प्रीत इंदर सिंह बैंस, सहायक कमिश्नर (सामान्य) व्योम भारद्वाज भी मौजूद थे।

ADC राहुल चाबा की बैठक में मौजूद विभिन्न विभागों के अधिकारी।

ADC राहुल चाबा की बैठक में मौजूद विभिन्न विभागों के अधिकारी।

कॉमर्शियल वाहनों पर फट्‌टे लगाकर श्रद्धालुओं को बैठाया जाता है
अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने सचिव आरटीए को निर्देश दिए कि वे यकीनी बनाएं कि मेले के दौरान कोई भी श्रद्धालु भार ढोने वाले वाहनों (कॉमर्शियल वाहनों) पर न जाएं, क्योंकि इन वाहनों से हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। उन्होंने कहा कि कॉमर्शियल वाहनों पर श्रद्धालुओं को फट्टे आदि लगाकर बैठाया जाता है, जिससे जहां कानून का उल्लंघन होता है, वहीं किसी गंभीर हादसे का खतरा भी बना रहता है।

उन्होंने कहा कि मेले के दौरान डीजे पर पाबंदी रहेगी। अगर कोई भी डीजे बजाता पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने नगर निगम को निर्देश दिए कि लंगर लगाने के दौरान सफाई व्यवस्था बरकरार रखना यकीनी बनाया जाए, ताकि वातावरण दूषित न हो सके।

लंगर लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन जरूरी
उन्होंने यह भी अपील की है कि निर्विघ्न यातायात के लिए संगठनों की ओर से सड़क पर आकर लंगर न वितरित किया जाए। लंगर के दौरान सिंगल यूज प्लास्टिक (जो बैन हो चुका है) का प्रयोग न किया जाए। राहुल चाबा ने इस दौरान 24 घंटे स्वास्थ्य सेवाएं, मोबाइल शौचालय, पुलिस मॉनिटरिंग, कंट्रोल रूम, ट्रैफिक कंट्रोल व अन्य सुविधाओं संबंधी भी समीक्षा करते हुए संबंधित विभागों को निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि लंगर लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन जरूरी है, इसलिए लंगर कमेटियों की ओर से यह रजिस्ट्रेशन एसडीएम कार्यालय होशियारपुर से करवाई जा सकती है। इस मौके पर अलग-अलग विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *