कसौली छावनी बैरियर पर एंट्री टैक्स बंद: अधिसूचना जारी हुई, रक्षा मंत्रालय के आदेश; लोगों में खुशी की लहर, सरकार का जताया आभार

कसौली छावनी बैरियर पर एंट्री टैक्स बंद: अधिसूचना जारी हुई, रक्षा मंत्रालय के आदेश; लोगों में खुशी की लहर, सरकार का जताया आभार


कसौली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कसौली आने पर लोगों को अब केवल पार्किंग फीस देनी पड़ेगी।

आजादी के 75 साल बाद भी ब्रिटिश कानून का दंश झेल रहे सोलन के कसौली छावनी क्षेत्र के बाशिंदों के लिए राहत भरी खबर है। लंबे अर्से से कसौली छावनी क्षेत्र में प्रवेश करने वाली हर गाड़ी से बैरियर पर एंट्री टैक्स बंद करने की कवायद चल रही थी।

इस दिशा में छावनी बोर्ड कसौली की CEO दिव्या आर. की ओर से 13 अप्रैल को जारी अधिसूचना के अनुसार, छावनी बैरियर पर एंट्री टैक्स बंद करने के आदेश जारी कर दिए हैं। छावनी बोर्ड कसौली के इस निर्णय से लोगों में खुशी की लहर है। लोगों ने छावनी बोर्ड का आभार जताया है।

बता दें कि इससे पहले रक्षा मंत्रालय के कार्यालय से भारत के राजपत्र में जारी अधिसूचना के अनुसार, 11 अप्रैल 2023 को कसौली छावनी बैरियर पर एंट्री टैक्स तुरंत प्रभाव से स्थगित कर दिया था। इसके लिए रक्षा मंत्रालय ने आदेश भी जारी कर दिए थे।

सरकार द्वारा जारी किया गया अधिसूचना संबंधी पत्र।

अब केवल 85 रुपए वसूले जा रहे
छावनी परिषद के ठेकेदार रिंकू ने बताया कि अब ताजा आदेशों के अनुसार केवल पार्किंग के 85 रुपए ही वसूले जा रहे हैं। वाहन चालकों से किसी भी प्रकार का एंट्री टैक्स नही लिया जा रहा है। रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना के बाद एंट्री टैक्स निरस्त करने के फैसले का स्थानीय लोगों ने स्वागत किया है। हालांकि रक्षा मंत्रालय की ओर से कसौली छावनी में करोड़ों रुपए की लागत से नवनिर्मित मल्टीलेवल पार्किंग की फीस पहले से ही लगाई गई है।

पहले इतने पैसे देने पड़ रहे थे
इससे पहले नवनिर्मित पार्किंग में गाड़ी खड़ी करने के लिए पहले 4 घंटे के लिए लोगों को 130 रुपए और उसके बाद 20 रुपए प्रति घंटे के हिसाब से जेब ढीली करनी पड़ रही थी। पूरे दिन के लिए 500 रुपए पार्किंग फीस वसूली जा रही थी। मोटर साइकिल और स्कूटर के लिए पहले 4 घंटे के लिए लोगों को 50 रुपए और उसके बाद 10 रुपए प्रति घंटे के हिसाब से और पूरे दिन के लिए 100 रुपए पार्किंग फीस देनी पड़ रही थी।

इसके अलावा ट्रक, बस और टिप्पर के लिए हर अवसर पर 200 रुपए, कैंट सीमा के बाहर प्रत्येक अवसर पर 700 रुपए पार्किंग फीस वसूली जा रही थी।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *