एवरेस्ट विजेता बलजीत कौर नेपाल में लापता: अन्नपूर्णा चोटी से उतरते वक्त संपर्क टूटा, रेस्क्यू कर किया एयरलिफ्ट; काठमांडू में चल रहा इलाज

एवरेस्ट विजेता बलजीत कौर नेपाल में लापता: अन्नपूर्णा चोटी से उतरते वक्त संपर्क टूटा, रेस्क्यू कर किया एयरलिफ्ट; काठमांडू में चल रहा इलाज


सोलन3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हिमाचल के सोलन की बेटी एवरेस्ट विजेता पर्वतारोही बलजीत कौर के साथ नेपाल की अन्नपूर्णा चोटी से उतरते हुए हादसा हो गया। इसके बाद वह लापता हो गई थी। रेस्क्यू टीम ने उन्हें जीवित खोज निकाला और एयर लिफ्ट किया गया। बलजीत का काठमांडू अस्पताल में उपचार चल रहा है। बलजीत कौर के अभियान टीम की ओर से जानकारी दी गई है कि उनका सफलता पूर्वक रेस्क्यू किया गया है।

जानकारी के मुताबिक 28 साल की बलजीत कौर सोमवार शाम करीब सवा 5 बजे 2 शेरपा गाइडों के साथ बिना कृत्रिम ऑक्सीजन के 8091 मीटर ऊंची माउंट अन्नपूर्णा चोटी चढ़ने में कामयाब हो गई थी। वापसी में 7,375 मीटर (24,193 फीट) की ऊंचाई पर माउंट अन्नपूर्णा कैंप 4 के पास उनका रेडियो संपर्क टूट गया और वह लापता हो गई थी।

28 अप्रैल को भी इस चोटी पर सफलतापूर्वक की चढ़ाई
उन्हें खोजने के लिए अभियान चलाया गया और मंगलवार दोपहर सिग्नल मिलने पर रेस्क्यू टीम ने एयर लिफ्ट कर बेस कैंप तक पहुंचाया। बलजीत ने पिछले साल 28 अप्रैल को भी इस चोटी पर बिना ऑक्सीजन के सफलतापूर्वक चढ़ाई की थी। अभियान टीम पायनियर एडवेंचर पासंग शेरपा ने जानकारी दी है कि हवाई खोज दल ने बलजीत कौर को कैंप चार की ओर अकेले उतरते देखा था।

भारतीय महिला पर्वतारोही मंगलवार सुबह तक रेडियो संपर्क से बाहर थी। मंगलवार सुबह एक हवाई खोज अभियान शुरू किया गया। इस दौरान वह तत्काल मदद के लिए एक रेडियो सिग्नल भेजने में कामयाब रहीं।

सोलन के ममलीग की हैं बलजीत
पर्वतारोही बलजीत कौर हिमाचल प्रदेश के सोलन जिला के छोटे से गांव ममलीग की रहने वाली हैं। उन्होंने पर्वतारोही बनने के लिए बड़े संघर्षों का सामना किया था। सोलन कॉलेज में पढ़ाई के दौरान ही उन्हें पर्वतारोही बनने का जुनून सवार हुआ।

पर्वतारोही बलजीत कौर की माता शांति देवी ने कहा कि उनकी बेटी के साथ कोई अनहोनी हो ही नहीं सकती, क्योंकि वह पूरे देश की बेटी है। पूरे देश के लोगों की दुआएं उनके साथ हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *